बैठक को संबोधित करते हुए भारतीय किसान यूनियन भानु के राष्ट्रीय महासचिव नरेश प्रधान ने कहा कि सरकार द्वारा गन्ना मूल्य में की गयी वृद्धि बहुत कम है.

सरकार से खेतों का समर्थन मूल्य 500 रुपये प्रति क्विंटल करने की मांग की गयी.

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश में होटलों का समर्थन मूल्य 3100 रुपये प्रति क्विंटल है.

तो यूपी में भी सरकार को समर्थन मूल्य 3100 प्रति कुंटल देना चाहिए।

क्षेत्र में द्वीपों में नौकायन करने वाले जहाजों की मांग है। बैठक का संचालन हमीदादाद ने किया.

इस मौके पर जगत सिंह राहुल चौधरी, राजेंद्र सिंह, मेराजुद्दीन, खिला सिंह, गजेंद्र सिंह, जितेंद्र सिंह, ब्रह्मपाल सिंह आदि मौजूद रहे।

भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक युवा प्रदेश अध्यक्ष चौधरी दिगंबर सिंह ने कहा कि रियायती मूल्य बहुत कम है।

फसलों की लागत और बढ़ती महंगाई को देखते हुए सरकार ने गन्ना मूल्य बहुत कम घोषित किया है,

सरकार को फसलों की लागत और महंगाई को देखते हुए कम से कम गन्ना मूल्य 400 घोषित करना चाहिए था।

गन्ना मूल्य में 20 रुपये की बढ़ोतरी कर सरकार ने किसानों को छलने का काम किया है।