प्रधानमंत्री किसान योजना (पीएम किसान योजना) एक महत्वपूर्ण किसान कल्याण योजना है जो भारतीय किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की गई है।

इस योजना के अंतर्गत, पात्र किसानों को सालाना 6000 रुपये की सहायता प्रदान की जाती है, जो तीन बरसों में तीन किस्तों में दी जाती है।

पीएम किसान योजना के अंतर्गत योग्यता मानदंडों को पूरा करने वाले किसानों को लाभ मिलता है।

इसके लिए, किसान को अपनी केवाईसी (Know Your Customer) की प्रक्रिया पूरी करनी होती है। केवाईसी का मतलब होता है

बैंक या वित्तीय संस्था को आपकी पहचान के सभी आवश्यक दस्तावेजों की जांच करनी होती है।

केवाईसी की प्रक्रिया में आपको अपने बैंक ब्रांच में जाकर आवश्यक दस्तावेजों की प्रतिलिपि सबमिट करनी होती है।

आपको अपनी पहचान साबित करने के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड और बैंक खाता विवरण जैसे दस्तावेजों की जरूरत होती है।

। इसके अलावा, आपको बैंक द्वारा प्रदान की जाने वाली किसी अन्य आवश्यक दस्तावेज की जांच करानी पड़ सकती है।

केवाईसी की प्रक्रिया पूरी होने के बाद, आपके खाते में पीएम किसान योजना की किस्तें आने शुरू हो जाएंगी। यह योजना किसानों के लिए आर्थिक सुरक्षा का एक महत्वपूर्ण स्रोत है

इसे लाभार्थी किसानों को नुकसान से बचने के लिए समय पर लागू करना चाहिए।